गूगल ने घोषणा की कि वह लोकप्रिय स्मार्टवॉच कंपनी फिटबिट को 2.1 बिलियन डॉलर में खरीदेगा

गूगल ने 2.1 बिलियन डॉलर के नकद सौदे के साथ फिटबिट  नामक लोकप्रिय स्मार्टवॉच कंपनी का अधिग्रहण करने  की घोषणा की।

फिटबिट  क्यों है खास?

फिटबिट एक कंपनी है जो पहनने योग्य तकनीक विकसित करती है। इसने मूल रूप से कम लागत वाले बैंड बनाए जो आपके चलने या दौड़ने की दूरी के साथ फिटनेस स्तर को ट्रैक करता  है। पिछले कुछ वर्षों में, इसने अपने उत्पाद को स्मार्टवॉच के विभिन्न मॉडलों के रूप में विकसित किया है। फिटबिट ने अपनी घड़ियों (हार्डवेयर) के लिए अद्वितीय डिजाइन के साथ-साथ सुपर फिटनेस ट्रैकिंग क्षमता वाले मोबाइल ऐप, सोशल नेटवर्क, स्लीप ट्रैकिंग, सब्सक्रिप्शन कोचिंग (सॉफ्टवेयर) विकसित किए हैं, जिसने इसे फिटनेस वेरबल के क्षेत्र में अलग पहचान दिलाई है।

स्मार्टवॉच क्या है?

स्मार्टवॉच एक ऐसी घड़ी है जो आपको सिर्फ समय नहीं बताती बल्कि उससे कई ज्यादा काम की है। यह आपके फिटनेस स्तर (आप कितने कदम चलते हैं, हृदय गति, नींद का पैटर्न) को ट्रैक कर सकती है, मैसेज का जवाब दे सकती है और कॉल ले सकती है, आपके स्मार्ट सहायक के साथ बातचीत कर सकती है, दिशा बताते में मदद कर सकती है, इसके ज़रिए आप अपना म्यूज़िक ऐक्सेस कर सकते हैं।स्मार्टवॉच उद्योग एक बहुत ही लाभदायक उद्योग है। रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक  2019 में स्मार्टवॉच की बिक्री से कुल राजस्व 11 बिलियन डॉलर  होने की उम्मीद है, और 2024 तक यह 37 बिलियन डॉलर तक बढ़ने का अनुमान है। यह बहुत अच्छा है!
वर्तमान में, ऐप्पल वॉच और सैमसंग की गैलेक्सी इस मार्केट में सबसे आगे हैं। 2019 की दूसरी तिमाही में ऐप्पल ने 46.8% बाजार हिस्सेदारी (मार्केट शेयर) दर्ज की, जबकि फिटबिट बेची गई घड़ियों की संख्या के मामले में 9.8% पर आ गई। बाजार हिस्सेदारी क्या है? मार्केट शेयर का मतलब है कि एक उत्पाद का संबन्धित बाज़ार पर कितना कब्जा है। उदाहरण के लिए, यदि एक वर्ष में 100 स्मार्टवॉच बिकी हैं, और उस वर्ष ऐप्पल की 46.8 घड़ियाँ बिकी हैं, तो उस वर्ष ऐप्पल की बाजार हिस्सेदारी 46.8% है।
गूगल द्वारा खरीदे जाना फिटबिट के लिए सही क्यों है? फिटबिट लंबे समय से एक्टिविटी-हेल्थ ट्रैकिंग वेरबल में अग्रणी थी, लेकिन पिछले तीन वर्षों में इसकी बाजार हिस्सेदारी में गिरावट आई है। इस सौदे के साथ, फिटबिट को गूगल के सॉफ़्टवेयर तक पहुंच मिलेगी और वह अपने ऐप स्टोर का विस्तार करने में सक्षम होगा। यह स्वास्थ्य उत्पाद श्रेणी में बेहतर उत्पाद पेश करने में सक्षम होगा।

गूगल फिटबिट क्यों खरीदना चाहता है? गूगल के पास घड़ी के लिए वेयरओएस नाम का एक ऑपरेटिंग सिस्टम है जिसे अन्य स्मार्टवॉच ब्रांडों के हार्डवेयर में उपयोग किया जाता है, जैसे कि फॉसिल और एम्पोरियो अरमानी, लेकिन उनके पास अपने ब्रांडेड वेरबल्स नहीं हैं। गूगल अपनी स्मार्टवॉच और फिटनेस हार्डवेयर का निर्माण करना चाहता है और फिटबिट की विशेषज्ञता और हार्डवेयर क्षमताएं उन्हें इसमें मदद करेंगी!

इसके अलावा, फिटबिट के 28 मिलियन सक्रिय उपयोगकर्ता हैं जो अपने स्मार्टवॉच से स्टेप्स, हार्ट-रेट, स्लीप रीडिंग, लोकेशन और बहुत कुछ सिंक कर रहे हैं। कंपनी के पास लोगों के निजी जीवन पर बहुत सारे सार्थक आंकड़े हैं। यह इस सौदे का सबसे ज़रूरी हिस्सा हो सकता है। इस डेटा का उपयोग विज्ञापन के लिए किया जा सकता है? आपके गूगल खोज परिणामों को प्रभावित करने के लिए? नए स्वास्थ्य उत्पादों का निर्माण करने के लिए? हालांकि गूगल ने स्पष्ट किया है कि फिटबिट हेल्थ और वेलनेस डेटा का उपयोग गूगल विज्ञापनों के लिए नहीं किया जाएगा और फिटबिट ने वादा किया है कि उनके उपयोगकर्ता का डेटा निजी रहेगा। यह तो समय ही बताएगा।इस नई साझेदारी के नए उत्पाद देखने के लिए हम बेसब्र हैं।